National

लड़की के साथ होटल में पकड़े जाने वाले मेजर गोगोई दोषी करार, अब हो सकता है कोर्ट मार्शल

मेजर गोगोई को कोर्ट मार्शल का सामना करना पड़ सकता है

नई दिल्ली: पत्थरबाजों पर काबू पाने के लिए एक पत्थरबाज को जीप के आगे मानव ढाल की तरह इस्तेमाल करने वाले मेजर लितुल गोगोई पर इन दिनों खतरे के बादल मंडराते नज़र आ रहे हैं. ड्यूटी के समय  कार्यस्थल छोड़ कर होटल में महिला के साथ मिलने वाले मेजर गोगोई को भारतीय सेना की कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी (Col) ने अब दोषी करार दे दिया है जिसके कारण अब उनपर सख्त कारवाई की जा सकती है. सूत्रों के अनुसार अब कोर्ट ऑफ़ इन्क्वायरी ने मेजर के खिलाफ अनुशासनात्मक तरीके से कारवाई करने के आदेश दे दिए हैं जिसके चलते उन्हें कोर्ट मार्शल का सामना भी करना पड़ सकता है.

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि अदालत ने पहली नज़र में मेजर गोगोई को स्थानीय लोगों के साथ ‘सेना के निर्देशों के ख़िलाफ़ जाकर मेलजोल और अनौपचारिक सम्बन्ध रखने और ड्यूटी की जगह से दूर रहने’ का दोषी पाया है. दरअसल, ये पूरा विवाद 23 मई 2018 का है. इस दिन मेजर अपनी ड्यूटी से गायब होकर एक महिला से मिलने श्रीनगर के होटल पहुँच गए जहाँ, होटल वालों ने उस महिला को कमरा देने से मना कर दिया जिसपर मेजर गोगोई भडक उठे और होटल स्टाफ के साथ उनका झगड़ा हो गया.

मिली जानकारी के अनुसार कोर्ट ऑफ़ इन्क्वॉयरी सेना के ही एक ब्रिगेडियर ने की है. होटल में विवाद बढ़ता देख कर वहां पुलिस बुलवा ली गयी थी . जिसके बाद पुलिस ने गोगोई को हिरासत में ले लिया था. वहीँ इस मामले में सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा था कि अगर मेजर गोगोई दोषी पाए गए तो उन्हें ऐसी सज़ा मिलेगी जो इंसानियत के लिए एक  मिसाल साबित होगी. अब देखना यह है कि मेजर को सेना द्वारा क्या सज़ा दी जाती है.

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Back to top button
Close